नागपुर/अमरावती, लखेश्वर चंद्रवंशी : केन्दीय ऊर्जा और कोयला मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पीयूष गोयल ने कहा कि विवेकानन्द शिलास्मारक के निर्माता तथा विवेकानन्द केन्द्र के संस्थापक स्वर्गीय एकनाथ रानडे की जन्मभूमि ‘टिमटाला’ में आकर मैं गौरवान्वित अनुभव कर रहा हूं। गोयल ने कहा कि विवेकानन्द केन्द्र के कार्य के लिए एकनाथजी रानडे जब भी मुंबई आते थे, तब वे उनके घर आते थे। एकनाथजी को उन्होंने देखा है, उन्होंने मुझे बहुत प्रभावित किया है। उन्होंने कहा जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सांसद आदर्श ग्राम योजना हम सांसदों के सामने रखी, तभी मैंने निश्चय कर लिया था कि मैं टिमटाला को दत्तक लूंगा और उसे आदर्श ग्राम बनाऊंगा। गोयल ने कहा कि इस भूमि ने एकनाथजी रानडे जैसा महापुरुष दिया, इसके लिए टिमटाला गांव को नमन है। टिमटाला एक तरह से तीर्थ स्थल ही है, यहां आकर प्रेरणा मिलती है।     

उल्लेखनीय है कि ऊर्जा मंत्री पियूष गोयल ने अमरावती के नांदगांव खंडेश्वर तहसील में आनेवाले टिमटाला सहित चार अन्य गांवों को ‘सांसद आदर्श ग्राम योजना’ के अंतर्गत दत्तक लिया है। ज्ञात हो कि स्वतंत्रता के बाद पहली बार पियूष गोयल के रूप में प्रथम बार कोई केन्द्रीय मंत्री इस टिमटाला क्षेत्र में आए हैं। इससे पहले कोई भी केन्द्रीय मंत्री इस क्षेत्र में नहीं आए थे। इसलिए ग्रामवासी गोयल के आगमन पर बेहद उत्साहित हैं। ग्रामवासियों ने गोयल के आगमन पर पूरे गांव में स्वच्छता की, द्वार पर रंगोली बनाई तथा बाजा-गाजा के साथ मंत्री का स्वागत किया।

टिमटाला, जनुना, निरसाना, खिरसाना तथा अडगांव को आदर्श गांव बनाने के लिए संकल्पित मंत्री गोयल ने कहा कि मैं इन पांच गांवों को गोद लेकर कोई उपकार नहीं कर रहा हूं, यह मेरा कर्तव्य है। दत्तक लिये गए गांवों का विकास करना सामाजिक ऋण को पूरा करनेवाला काम है।           

ग्रामोदय के लिए जन भागीदारी आवश्यक

ऊर्जा मंत्री पियूष गोयल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गांवों और किसानों के उत्थान के लिए “ग्रामोदय” तथा “सांसद आदर्श ग्राम योजना” हमारे सामने रखी है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में ग्रामोदय के कार्य देशभर में चल रहा है। ग्रामोदय के कार्य सरकार की योजना को सही तरीके से गांवों में लागु करने से ही गांवों का विकास होगा। उन्होंने कहा कि सरकार के साथ ही गांव वालों को भी विकास के लिए आगे आना होगा। जन सहभागिता से ही देश का विकास हो सकता है। जबतक हर नागरिक विकास कीई यात्रा में सहभागी नहीं होता, तब तक सही अर्थों में गांव का विकास नहीं होता। इसलिए आप सभी इस विकास यात्रा में सहभागी हो।

गोयल ने कहा कि तेजी से विकास का दौर अब शुरू हो चुका है। गांवों के विकास के लिए जो राशि खर्च की जा रही है, वह आप ही की है। इसलिए सरकारी कामों की पड़ताल जरुरी है। प्रत्येक काम में क्वालिटी होनी चाहिए। यह तभी संभव है जब भ्रष्टाचार न हो। इसलिए गांववासी देखें कि ट्रक में सीमेंट कितना आया, उसका उपयोग ठीक से हो रहा है या नहीं। यदि आप इसका ध्यान रखेंगे तो काम अच्छा होगा। ऊर्जा मंत्री ने जोर देकर कहा कि भ्रष्टाचार पर जब आप चुप होते हैं तो आप भी भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों के साथ दोषी हैं। इसलिए कुछ गड़बड़ी हो तो मुझे बताएं।

सरकार की योजनाएं आपके लिए

पियूष गोयल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने जनता के लिए प्रधानमंत्री बीमा योजना, प्रधानमंत्री जन धन योजना तथा मुद्रा योजना बनाई है। किसानों को कर्ज लेने के लिए अब साहूकारों के पास नहीं जाना है। छोटे-मोटे व्यवसाय के लिए यदि रुपयों की आवश्यकता है तो बैंक में मुद्रा योजना के तहत लोन लीजिए। उन्होंने बताया कि मोदी सरकार ने मुद्रा योजना के अंतर्गत लगभग तीन करोड़ लोगों को 1 लाख, 20 हजार करोड़ रूपये का लोन दिया गया है। इस वर्ष 1 लाख, 80 हजार रूपये का लोन दिया जाएगा। इसलिए आप भी इस योजना का लाभ उठाइए। यदि कोई बैंककर्मी आपको इस योजना के तहत आपको लोन नहीं देता है तो सीधे मुझे बताइए। अकारण जनता को परेशान करनेवालों पर केन्द्र सरकार योग्य निर्णय लेगी।     

शुभारम्भ और घोषणाएं

25 जून को अपने एक दिवसीय अमरावती प्रवास के दौरान केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री पियूष गोयल ने दत्तक लिए गए पांच गांवों में विकास कार्यों का शुभारम्भ किया। इस दौरान केन्द्रीय मत्री ने एलईडी स्ट्रीट लाइट व मोबाइल से चलाए जा सकनेवाले कृषि पम्प का शुभारंभ किया। गायत हो कि पहले उन्होंने केवल चार गांव को ही दत्तक लिया था, लेकिन जब समारोह के बीच अडगांव के सरपंच ने अपने गांव को भी सांसद आदर्श ग्राम योजना में शामिल करने की मांग की तो ऊर्जा मंत्री ने तुरंत इस मांग को स्वीकार कर लिया।

केन्द्रीय मंत्री गोयल ने यह भी कहा कि जनुना स्थित विद्यालय की इमारत जर्जर हो चुकी है, इसलिए वहां नए विद्यालय भवन का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन पांचों गांवों में मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराने के लिए विकासात्मक क्लस्टर की स्थापना की गई है। इस क्लस्टर में शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, बैंक, पोस्ट ऑफिस, रास्तों का विकास और चौड़ीकरण, शौचालयों का निर्माण, पीने का शुद्ध जल, बिजली आपूर्ति तथा खाद्य सामग्री वितरण जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध होंगी। उन्होंने कहा कि नहर द्वारा पानी की सुविधा की जाएगी। उन्होंने पारंपरिक ऊर्जा बचत पर जोर देते हुए पुराने कृषि पम्पों व बल्बों को बदलने की बात कही तथा बिजली बचत के लिहाज से किफायती कृषि पम्प व एलईडी लाइट का प्रयोग करने पर बल दिया। केंद्रीय मंत्री ने इस दौरान अमरावती मनपा को जल्द ही 34 हजार एलईडी स्टीट लाइट देने की बात भी की। 

गोयल ने कहा कि जलयुक्त शिवार योजना के अंतर्गत किसानों को सिंचाई की सुविधा उपलब्ध की जाएगी। इन गांवों में लगभग 232 मोटरपम्प वितरित किए जाएंगे। उन्होंने कृषि पम्प वितरण योजना के तहत अमरावती जिले में लगभग 1 लाख, 16 हजार कृषि पम्प वितरित किए जाने की बात कही।     

ग्राम विकास संकुल का होगा निर्माण 

केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री पियूष गोयल ने इस बात की घोषणा कि आगामी कुछ वर्षों में दत्तक लिए गए पांच गावों के मध्य स्थल पर 3 एकड़ भूमि पर ग्राम विकास संकुल का निर्माण किया जाएगा। इस संकुल में सभी प्रकार की सुविधाएं होंगी ताकि किसी आवश्यक वस्तुओं तथा सेवाओं के लिए ग्रामवासियों को शहर की ओर न जाना पड़े। उन्होंने बताया कि ग्राम विकास संकुल में ग्राम पंचायत का सचिवालय, राष्ट्रीयकृत बैंक ग्राहक सेवा केन्द्र, भारतीय दूरसंचार निगम सुविधा टॉवर, कृषि उपकरण तथा बीज विक्री केन्द्र, पोस्ट ऑफिस, वाचनालय, स्वास्थ्य केन्द्र, दवाई स्टोर, नागरी ई-सुविधा केन्द्र, महावितरण कार्यालय बिजली बिल भरने का केन्द्र, कम्पूटर प्रशिक्षण केन्द्र, व्यायाम शाला सहित अनेक जीवनावश्यक वस्तुओं के भंडार होंगे। उन्होंने गांव के बालक, युवाओं के साथ ही बड़ों को आह्वान किया कि सभी कम्प्यूटर का प्रशिक्षण लें।

इससे पहले केन्दीय ऊर्जा राज्य मंत्री पीयूष गोयल ने विदर्भ के महान संत कर्मयोगी गाडगे बाबा तथा विवेकानन्द केन्द्र के संस्थापक एकनाथजी रानडे की प्रतिमा को अभिवादन किया। इस दौरान उन्होंने निरसाना, खिरसाना, जनुना और टिमटाला के गांवों का प्रवास किया। किसानों से संवाद साधा। टिमटाला में आयोजित पियूष गोयल के समारोह में अमरावती के पालक मंत्री प्रवीण पोटे, सांसद आनंदराव अडसूळ, वर्धा के सांसद रामदास तडस, विधायक डॉ.अनिल बोंडे, कांग्रेस विधायक वीरेन्द्र जगताप, जिला परिषद् सदस्य अभिजित ढेपे, भाजपा के जिलाध्यक्ष दिनेश सूर्यवंशी, भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता शिवराय कुलकर्णी, विवेकानन्द केन्द्र के महाराष्ट्र प्रान्त के सहसंचालक किरण कीर्तने, तुषार भारतीय, जिलाधिकारी किरण गीते, सुनील सरोदे, टिमटाला से सरपंच अशोक भेंडे, अरविन्द नळकांडे, गटविकास अधिकारी सूरज मोहोड आदि प्रमुखता से उपस्थित थे। इस दौरान केन्द्रीय मंत्री गोयल ने सावित्रीबाई फुले शिष्यवृत्ति योजना के अंतर्गत गुणवान विद्यार्थियों को प्रमाणपत्र दिया, साथ ही राष्ट्रीय अन्न सुरक्षा योजना के तहत लाभार्थियों को अन्न धान्य का वितरण किया गया। समारोह में हजारों की संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे।