जमशेदपुर, जनवरी 10: केंद्रीय राज्य मंत्री राजीव प्रताप रूडी मंगलवार को जमशेदपुर कौशल विकास कार्यक्रम की जानकारी लेने पहुचे जहां उन्होने स्पष्ट रूप से कहा कि सरकार की ओर से 23 लाख नौजवानों को कौशल विकास का प्रशिक्षण दिया जा रहा है जिससे उन्हें रोजगार मिलेगा।
साथ ही उन्होने इस दौरान बताया कि केंद्र सरकार ने इस योजना को बारह हजार करोड़ रूपये दिये हैं जिससे प्रत्येक राज्यों को इस राशि का पच्चीस प्रतिशत अनुदान के रूप में मिलेगा।

उन्होंने ज़ोर देते हुए कहा कि देश को विभिन्न क्षेत्रों में छह लाख से ज्यादा ड्राईवरों की जरूरत है। सरकार की कोशिश है कि इसमें भी ज्यादा से ज्यादा महिलाओं की नियुक्ति हो। उन्होंने कहा कि 2-3 मार्च को राष्ट्रपति मुखर्जी गोड्डा (झारखंड) आएंगे और कौशल विकास केन्द्रों का प्रधानमंत्री के साथ ऑनलाईन उद्घाटन करेंगे।

उन्होंने कहा कि आईटीआई से पास होने वाले छात्रों को मैट्रिक और इंटर के समकक्ष सर्टिफिकेट मिलेंगे। फौज से रिटायर नागरिकों को प्रशिक्षित कर रोज़गार दिया जाएगा। इसके साथ ही पूरे झारखंड में कौशल विकास का जाल बिछाया जाएगा। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में इंटरनेशनल कौशल विकास केन्द्र बनेंगे जो नौजवानों को विदेश में भी रोजगार मिलेंगे।

रुडी ने नोटबंदी और कैशलेस के मामले पर कहा कि प्रधानमंत्री का यह फैसला देश के लिए ऐतिहासिक कदम है। उन्होंने कहा कि शुरुआती दिनों में दिक्कत आईं पर आने वाले दिनों में देश के लिए बेहतर साबित होगा। उन्होंने कहा कि पांच राज्यों के चुनाव के मामले में कहा कि यूपी, गोवा समेत जिन राज्यों में चुनाव होने हैं, उन सभी में भाजपा की जीत होगी।