नई दिल्ली, जनवरी 10: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 'सुखी समाज के निर्माण' विषय पर छात्रों और युवाओं को नेशनल नॉलेज नेटवर्क का उपयोग कर नए साल का संदेश दिया। इस दौरान उन्होने युवाओं को सेहत, किताब से प्यार करने और मुख पर मुस्कान रखकर गरीब और वंचितों की मदद करने का आह्वान किया।
उच्च शिक्षा संस्थानों के छात्रों और संकाय एवं सिविल सेवा अकादमियों के अधिकारी प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने युवाओं से आह्वान किया कि वह हमेशा अपने चेहरे पर मुस्कान रखते हुए खुशी बांटना सीखें और जीवन में खुश रहें।

Embeded Object

Embeded Objectउन्होंने युवाओं को खेल में रुचि लेने और स्वस्थ शरीर के महत्व के प्रति जागरूक रहने की सलाह दी। उन्होने कहा,कि युवाओं को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होना चाहिए और इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि वे क्या खा रहे हैं। साथ ही कहा कि वंचित और कमजोर लोगों के चेहरे पर मुस्कान लाना वास्तव में एक शानदार अनुभव है।

Embeded Object

Embeded Objectआखिर में राष्ट्रपति ने युवाओं को योग और ध्यान का अभ्यास करने की सलाह दी और कहा कि खुशी के लिए स्वयं के अंदर झांकें। राष्ट्रपति ने युवाओं से किताबों को अपना सबसे अच्छा दोस्त बनाने की सलाह देते हुए कहा कि जीवन भर सीखने की आदत डालनी चाहिए।

 Embeded Object

Embeded Object