मुंबई, जनवरी 11: भारतीय क्रिकेट टीम के बड़े ही सुलझे हुए कप्तान और धुरंधर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने बतौर कप्तान आखिरी मुक़ाबला मंगलवार को मुंबई स्थित ब्राबौर्न मैदान में खेला। बता दे कि, महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में आखिरी बार खेल रहे भारत-ए को इंग्लैंड के खिलाफ अभ्यास मैच में तीन विकेट से हार का सामना करना पड़ा मगर अपनी आतिशी बल्लेबाजी से अपने प्रशंसकों का दिल जीत लिया।
भारत-ए ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट पर 304 रन बनाए और इंग्लैंड को जीत के लिए 305 रन का लक्ष्य दिया। इंग्लैंड ने यह लक्ष्य सात विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया। बिलिंग्स ने शानदार 93 रन, जेसन रॉय ने 63, बटलर ने 46, डॉसन ने 41 और हेल्स ने 40 रन बनाए। भारत की तरफ से कुलदीप यादव ने 5 विकेट लिए।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे भारत 'ए' की ओर से अंबाती रायडू ने शतक (100 रन रिटायर) शिखर धवन 63, युवराज सिंह 56 और कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने आतिशी 68 रन बनाए। धोनी ने क्रिस वोक्स के आखिरी ओवर में 23 रन बनाए। भारत-ए ने निर्धारित 50 ओवरों में 4 विकेट के नुकसान पर 304 रन बनाए।

इस पूरे मुक़ाबले की सबसे खास बात यह रही की महेंद्र सिंह धोनी पहले की तरह आक्रामक खेल का प्रदर्शन कर रहे थे। उनकी पारी को देख ऐसा लगा मानो पहले वाला धोनी जो एकदम धुआंधार बल्लेबाजी करता था अब वापस लौट आया है जिसको देख भारतीय क्रिकेट के प्रशंसक और भी खुश हो गए है। ।

हालांकि, केवल धोनी ही नहीं बल्कि युवराज, धवन और रायडू ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और भारत को 300 रनो के पार पहुंचाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। युवराज ने 56 रन, धवन ने 63 रन वहीं रायडू ने शतकीय पारी खेली। भारत द्वारा खड़े किए गए 304 रन के विशाल लक्ष्य को भले ही इंग्लैंड ए ने आसानी से हासिल कर लिया हो मगर धोनी समेत इन खिलाड़ियों के प्रदर्शन ने भारतीय प्रशंसकों का मन मोह लिया।

Embeded Objectबता दे कि, अपने बल्ले और ‘कुल कप्तानी’ की बदौलत दुनिया के सफलतम कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने हाल ही में कप्तानी छोड़ी है। 2007 में धोनी ने अपनी कप्तानी पारी शुरू की और अब तक 199 वनडे और 72 टी 20 मैचों में भारत की कप्तानी की है। धोनी की अगुवाई में भारत ने 110 वनडे और 41 टी 20 मैच जीते है। याद दिला दे कि 2007 में खेला गया पहला टी 20 वर्ल्ड कप और 2011 का वनडे वर्ल्ड कप भारत ने धोनी की अगुवाई में ही जीते है। धोनी ने कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा 331 मैच खेले हैं।