नई दिल्ली, जनवरी 16 : समाजवादी पार्टी (सपा) में चुनाव चिन्ह ‘साइकिल’ और समाजवादी पार्टी का मुखिया कौन को लेकर घमासान मचा था, वह आज समाप्त हो गया। इस मामले में सोमवार को चुनाव आयोग ने मुलायम सिंह यादव को झटका देते हुए अखिलेश के पक्ष में फैसला सुनाया। चुनाव आयोग ने अपने फैसले में पार्टी का नाम और चुनाव चिन्ह ‘साइकिल’ दोनों यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को दिया है। आयोग के इस फैसले से मुलायम सिंह यादव और उनके गुट को तगड़ा झटका लगा है। चुनाव चिन्ह और पार्टी पर दावें की स्थिति साफ होने के बाद अब अखिलेश यादव ही पार्टी के मुखिया होंगे।

शुक्रवार 13 जनवरी को चुनाव आयोग ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनी थी और फैसला सुरक्षित रख लिया था। उत्तर प्रदेश में पहले चरण की चुनावी प्रक्रिया के तहत नामांकन दाखिल करने में काफी कम समय बचा है। राज्य में सात चरणों में मतदान होंगे। मतदान 11 फरवरी से शुरू होगा।

गौरतलब है कि मुलायम सिंह यादव का गुट आश्वस्त था कि साइकिल उसी के पास रहेगी। मुलायम ने बेटे अखिलेश के प्रति नरमी दिखाते हुए कह दिया था कि अखिलेश ही अगले मुख्यमंत्री होंगे। हालांकि उनके इस ऐलान से पिता पुत्र की दूरियां कम नहीं हुई थी।