भोपाल, जनवरी 17 : सहकार भारती भोपाल महानगर के द्वारा सहकार भारती स्थापना दिवस के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गयाl भारतमाता के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन कर सहकार गीत के साथ कार्यक्रम का शुभारम्भ हुआl राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रांत कार्यवाह अशोक अग्रवाल ने अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश में सहकारिता आन्दोलन दम तोड़ रहा हैl इसके लिए वे लोग ज़िम्मेदार हैं, जिन्होंने सहकारिता का उपयोग राजनीतिक हित साधने के लिए कियाl इस दौरान सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग, सहकार भारती के प्रदेश अध्यक्ष शिवनारायण पाटीदार, क्षेत्रीय संगठन प्रमुख इंदलसिंह सेंगर, प्रदेश उपाध्यक्ष भरत चतुर्वेदी, प्रांताध्यक्ष बाबूलाल ताम्रकार एवं प्रदेश महामंत्री उमाकांत दीक्षित आदि मौजूद थे।

सहकार भारती के प्रदेश अध्यक्ष शिवनारायण पाटीदार ने कहा गांव से शहर की तरफ लोगों का पलायन रोकना हो तो सहकारिता को अपनाना होगाl ऐसा नहीं किया तो स्थिति और ख़राब होगीl सहकार भारती के क्षेत्र संगठन प्रमुख इन्दर सिंह सेंगर ने कहा सहकारिता के क्षेत्र में मध्य प्रदेश कि स्तिथि गुजरात, महाराष्ट्र कि तुलना में बहुत ख़राब हैl

सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि पार्किंग से लेकर पर्यटन तक को हम सहकारिता से जोड़ रहे हैंl लोगों को सस्ते दामों में बिल्डिंग मटेरियल उपलब्ध कराने सहकारिता के माध्यम से बैंक खुलवायेंगे, ताकि लोगों के लिए मकान बनाना और आसान होगाl सारंग ने कहा कि संयुक्त परिवार में तो सहकारिता है ही, अकेले परिवार में सहकारिता होती है। हम यह मानते हैं कि जिस उद्देश्य को लेकर सहकारिता आई थी, उसमें अब कमी आ गई है। लोग कहते हैं जीवन की जरुरत रोटी, कपड़ा और मकान है, लेकिन ये चीजें तो जेल में भी मिल जाती है। रोटी, कपड़ा और मकान के साथ समाज, परिवार और मित्र-बांधवों का होना भी एक खास जरुरत है। उन्होंने कहा कि सहकारिता में विघटन हुआ यह सच है, लेकिन यह विघटन केवल सहकारिता में नहीं बल्कि व्यक्ति का भी अवमूल्यन हुआ है। आज व्यक्ति बिगड़ गया है, इसलिए हर समाज में अवमूल्यन और विघटन की स्थिति देखने को मिल रही है। भाजपा सरकार अब सहकारिता आंदोलन को ठीक करने का काम कर रही है। सारंग के मुताबिक उन्होंने सहकारी मंथन जैसे नवाचार आरंभ किए हैं, जिनके अच्छे परिणाम आने लगे हैं।

इससे पूर्व मंच संचालन करते हुए सहकार भारती के मध्य भारत प्रांत के महामंत्री उमाकांत दीक्षित ने मध्य भारत प्रांत में अभी तक हुए कार्यों की जानकारी दी एवं अतिथियों का परिचय करवायाl मंचासीन अतिथियों का स्वागत महानगर अध्यक्ष आशाराम शर्मा ने कियाl कार्यक्रम में प्रदेश उपाध्यक्ष सहकार भारती भारत चतुर्वेदी एवं मध्य भारत प्रांत के अध्यक्ष बाबूलाल ताम्रकार ने भी सहकार भारती से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी दीl कार्यक्रम के समापन सत्र में आभार व्यक्त सहकार भारती कोलार जिले के अध्यक्ष डॉ. शैलेन्द्र भारती ने कियाl सहकार मंत्र के साथ कार्यक्रम का समापन हुआl

कार्यक्रम में अतिथियों के साथ मुख्य रूप से सुदीप दाते, विमल दुबे, राजेश गौतम, गजेन्द्र गौतम, विजय रैकवार, आर.एस. चौहान, शोभा सिकरवार, नरेन्द्र रघुवंशी, रामसागर यादव, पंकज शुक्ल, दिनेश शर्मा, रमेशजी, अवधेश श्रीवास्तव, रजनीश भार्गव, अंगद सिंह सेंगर, डॉ. एस.के. तिवारी, राहुल रैकवार एवं लगभग 400 लोगों की सहभागिता हुईl

उल्लेखनीय है कि सहकार के क्षेत्र में कार्य कर रहा सहकार भारती राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का एक आनुसांगिक संगठन हैl पुणे में सहकार-भारती की स्थापना सन 1978 में की गई थी। सहकारिता के आंदोलन को मजबूती प्रदान करने के उद्देश्य से 11 जनवरी, 1979 को मुम्बई (महाराष्ट्र) में नामक सामाजिक संस्था की स्थापना हुई। इसके संस्थापक अध्यक्ष माधवराव गोडबोले थे, जिन्होंने सांगली में जनता सहकारी बैंक की शुरुआत की थी।