नई दिल्ली, जनवरी 19: निर्वाचन आयोग पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों को देखते हुये कानून व्यवस्था को कड़ाई से लागू करने में जुट गया है। जिसके लिए आयोग ने निगरानी एवं व्यय समीक्षा टीमें नियुक्त की थी जिन्होंने अब तक 64 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की है| इनमें 56.04 करोड़ रुपये केवल उत्तरप्रदेश से ही जब्त किए गये हैं। इसके अलावा पांचों चुनावी राज्यों से आठ करोड़ रुपये की शराब और नशीले पदार्थ भी जब्त किए गये हैं।

चुनाव आयोग से बुधवार को प्राप्त जानकारी के अनुसार पंजाब में 1.78 करोड़ रुपये की हेरोइन और चरस जब्त की गई है जबकि गोवा से 16.78 करोड़ रुपये के और मणिपुर से सात लाख रुपये के नशीले पदार्थ जब्त किये गए हैं। मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए अपनाए जाने वाले गैर कानूनी तरीकों में शामिल 1.98 लाख लीटर शराब जिसका मूल्य 6.06 करोड़ रुपये है, उत्तरप्रदेश से जब्त की गई जबकि पंजाब में 17.54 लाख रुपये मूल्य की 10646 लीटर स्प्रिट जब्त की गई है।

आयोग के अनुसार पांचों चुनावी राज्यों उत्तरप्रदेश, उत्तराखण्ड, गोवा, पंजाब और मणिपुर में कुल मिलाकर 64.38 करोड़ रुपये की नकदी 6.23 करोड़ की शराब और दो करोड़ से अधिक के नशीले पदार्थ जब्त किये गये हैं। गोवा और उत्तराखण्ड में अब तक नकदी और शराब नही पकड़ी गई है जबकि मणिपुर में शराब जब्ती का कोई मामला नहीं आया। उत्तर प्रदेश में भी नशीले पदार्थ नहीं जब्त किये गए हैं।

बता दें की गत 4 जनवरी को चुनाव आयोग ने पाँच राज्यों में चुनाव तारीखों का ऐलान किया। गोवा और पंजाब में 4 फरवरी, मणिपुर में दो चरणों में 4 और 8 मार्च को चुनाव जाएगा। वहीं, उत्तरप्रदेश में 7 चरणों में 11 फरवरी से लेकर 8 मार्च तक चुनाव होंगे। जबकि उत्तराखंड में एक चरण में 15 फरवरी को चुनाव होंगे। सबसे अहम बात यह है कि सभी राज्यों में मतगणना का काम एक साथ 11 मार्च को होगा।