मुंबई,  जनवरी 4: कृषि मंत्रालय द्वारा उपलब्ध करवाई गई जानकारी के अनुसार यूरोप ने भारत से आयात होने वाली फल-सब्जियों पर लगाए गए प्रतिबंध को हटा दिया है। बता दे कि यूरोप द्वारा प्रतिबंध हटाने की जानकारी मिलते ही महाराष्ट्र के किसानो में खुशी की लहर दौड़ गई है।
उल्लेखनीय है कि मई 2014 में भारतीय फल-सब्जियों के आयात पर तीन वर्ष के लिए प्रतिबंध लगा दिया था और समयसीमा पूरी होने के पहले प्रतिबंध को हटा लिया है। गौरतलब है कि यूरोप ने आम, करैला, पडवल, बैगन और आलू के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया था।

यूरोप ने एक जांच में पाया था कि भारत से आयात होने वाले फल-सब्जियों जीवन के लिए खतरा है। प्रतिबंध ने के बाद अब फल-सब्जियों के आयात का रास्ता खुल गया है। यूरोप द्वारा लगाए गए प्रतिबंध से किसानों व आयातकर्ता को भारी परेशानी का सामना करना पडता था, साथ ही उनको व्यवसायिक नुकसान का सामना करना पड रहा था, पर अब व्यापार के लिए आयात का रास्ता खुल गया है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में आम की पैदावार अधिक होती है और इसी के साथ सब्जियों की पैदावार आवश्यकता से अधिक होती है। आजकल किसानों की सब्जियां सड़ जा रही हैं। पर आयात शुरु होने से महाराष्ट्र के किसानों में खुशी का माहौल देखा जा रहा है।