नई दिल्ली, जनवरी 9: उत्तर-प्रदेश समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के तारीखों के ऐलान के साथ ही आम आदमी पार्टी ने तय किया है कि पार्टी जिन राज्यों में चुनाव नहीं लड़ेगी वहां भी भाजपा के खिलाफ प्रचार करेगी। दरअसल पार्टी ने तय किया है कि आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में सक्रियता से प्रचार करेगी।

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने कहा, आम आदमी पार्टी पंजाब और गोवा में पूरे दमखम से विधानसभा चुनाव लड़ रही है, लेकिन उत्तर प्रदेश में भी वह अपनी भूमिका बढ़ा रही है। बीजेपी ने देश को धोखा दिया है और राष्ट्रीय राजनीति में बीजेपी सबसे बड़ी बुराई है। हम उसका भंडाफोड़ करेंगे।

माहेश्वरी ने बताया कि आप नेताओं के दौरे से जुड़ा विस्तृत कार्यक्रम बाद में जारी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पार्टी बीजेपी के ‘गलत कामों’ को सामने तो लाएगी लेकिन किसी पार्टी के लिए वोट नहीं मांगेगी। दरअसल बीजेपी यूपी चुनाव में नोटबंदी को बड़ा मुद्दा बना रही है जबकि आम आदमी पार्टी इसे देश का अब तक का सबसे बड़ा घोटाला बता रही है।

दरअसल भाजपा नोटबंदी को मुख्य मुद्दा बनाकर चुनाव लड़ रही है। वहीं आप ने इसे अब तक का सबसे बड़ा घोटाला बताया है। आप नेताओं के अनुसार उत्तर प्रदेश में भाजपा के खिलाफ आप पहले से ही का अभियान चला रही है। आप हालांकि उत्तर प्रदेश में चुनाव नहीं लड़ रही है लेकिन पंजाब और गोवा विधानसभा चुनाव में उसने प्रत्याशी उतारे हैं।